Tags

, ,


मुझे खिला हुआ देख है सब चहरे खिल जाए Flower

मेरी खुशबू सब दिशाओं को है महकाए

कभी बागों में कभी घर में और कभी बालों में जाऊँ सजाए

मुझे तोहफा देकर आशिक़ रूठा यार मनाए

लाल, पीला, गुलाबी, नीला, सब रंग सबको भाय

जिसकी प्यारी प्यारी कलियाँ सबके दिल को लुभाय

हाँ मैं वही हूँ जो धरती पर फूल कहाय

Advertisements