Tags

, , ,


माँ की मूरत भोली सूरत
थी वो मदर टेरेसा महान
गरीब दुखियारों की सेवा हेतु
जिसने किया अपना जीवन कुर्बान
कलकत्ता के शहर में बस कर
किया निस्वार्थ दान का काम
ऐसी माँ जो विश्व की माँ है
हम सबका सादर प्रणाम

– अनुष्का सूरी

यदि आप विद्यार्थी हैं अथवा आप मदर टेरेसा के विषय में अपने बच्चे को और जानकारी देना चाहते हैं, तो कृपया यह पुस्तकें खरीदें:


 

Advertisements