Advertisements

Hindi Poem on Mosquito-Macchar Par Kavita

Tags

, , , ,

सर्दी की धूप में, गर्मी की छाँव में
शहर की भीड़ में, शांत सुखद गाँव में
कूड़े के ढेर में, पानी के गंदे संग्रह में
मैं मच्छर मिल जाता हूँ हर राह में
कभी मैं डेंगू फैलाऊँ
या मलेरिया मैं ले आऊँ
चिकनकुनिया हो या हो ज़ीका
बीमारी फ़ैलाने का मेरे पास तरीका
यदि रहना है मुझसे दूर
तो पहले रखो गंदे जल को दूर
घर में हो ओडोमॉस आल आउट का वास
लगा दो खूब सारे नीम के वृक्ष आस-पास
देर रात निकलो जो बाहर तो पहनो पूरे कपड़े
यह सब सावधानी से हम किसी को न जकड़ें

-अनुष्का सूरी

Advertisements

Hindi Poem on News-Aj Phir Maine Akhbaar Padhi

Tags

, , ,

आज फिर मैंने अख़बार पढ़ी
थोड़ी सी तकलीफ थोड़ी उदासी बढ़ी
आज फिर मैंने अख़बार पढ़ी
कहीं एक नन्हा इनक्यूबेटर में जल कर स्वाहा हुआ
कहीं स्कूल कहीं दुकान में बच्चियों संग अनचाहा हुआ
किसी बहु ने अपनी सास की ले ली जान
किसी आतंकवादी के हाथ वीर हुआ कुर्बान
मैंने खुद से आखिर किया अंतिम इकरार
इतने दिन बिना अख़बार कितने थे मज़ेदार
अब मैं फिर सोचती हूँ खड़ी खड़ी
अफ़सोस मैंने आज क्यों अखबार पढ़ी
-अनुष्का सूरी

(यह कविता दिनांक २ ८ सितम्बर, २०१७ की अखबार को पढ़कर रची गयी है)

Hindi Poem on Actor Amitabh Bachchan – अभिनेता अमिताभ बच्चन पर कविता

Tags

, , , , , , , ,

Amitabh.Bachchan

हर सदी के महानायक हैं कौन?
माननीय श्री अमिताभ बच्चन ये जान
चाहे शोले का हो जय
या दीवार का विजय
हर बार खूब निभाया किरदार
अभिनय किया सदा शानदार
बड़े परदे पर ही नहीं
छोटे परदे पर भी वही
लेकर कौन बनेगा करोड़ पति
सबकी हर ली टी आर पी
हिंदी व अंग्रेजी दोनों भाषा
ये बोलते हैं इतनी सुन्दर शुद्ध सदा
इनके अनमोल वचन सुनकर सरल
मन आंगन हो जाता है रस तरल
इनकी दीर्घ आयु हो ईश्वर से प्रार्थना है ये
यूं ही अपने काज से सबको उच्च प्रेरणा दें ये
– अनुष्का सूरी

English translation:

Who is the undisputed best actor of every century (20th and 21st)?

It is none other than Mr. Amitabh Bachchan

Whether it is the character Jai from the movie Sholay

Or it is the character Vijay from the movie Deewar

He has always played the characters close to real

His acting has always been the best

Not only on the big screen

But also on the silver screen (television)

With the hosting of Kaun Banega Crorepati

He has set the TRP for show channels on fire

Equally talented in both Hindi and English languages

He speaks both of them with great beauty and accuracy  always

After listening to his simple and precious words of wisdom

One’s heart is spellbound with feelings of joy

I wish God graces him with a healthy and long life

So that he can continue to motivate others through his deeds.

 

 

Hindi Poem on Spectacles-Chashma par Kavita

Tags

, , , , ,

spectacles-chashma

नाक कान पर मैं टिकता हूँ
कांच प्लास्टिक में बिकता हूँ
जैसे ही हुई किसी की नज़र कमज़ोर
आजाता हूँ तुरंत सेवा में उसकी हुज़ूर
प्लस माइनस पावर मेरे लेंस हैं
आंकड़े ये नज़र की जांच से हैं
मुझे पेहनने में न करो शर्म भाई
मैं नुकसान से रक्षा करूँ सदा ही
पढ़ने लिखने देखने में हूँ मददगार
शर्त ये है की पहनो मुझे लगातार
फिर भी अगर मुझे पसंदीदा न पाओ
तो मेरे बदले तुम कांटेक्ट लेंस लगाओ
-अनुष्का सूरी

चश्मे के बेहतरीन फ्रेम खरीदें (अमेज़न से):

Hindi Poem on Five Senses – Paanch Indriya

Tags

, , , , ,

five-senses-paanch-indriya

पांच इन्द्रियां हैं हम सबके पास
आओ जानें क्या है इनमें खास
नासिका यानि नोज़ से सूँघो यानि करो स्मेल
इस से पता लगेगा क्या खुशबू क्या बदबू का हेल
त्वचा यानि स्किन से महसूस करो यानि फील
ये बता देगी कितना ठंडा कितना गर्म है हिल
कानों यानि ईयर्स से सुनो यानि करो हीयर
ये तुरंत बता देंगे कब कौन आवाज़ हुई नियर
आँखों यानि आईज़ से देखो यानि करो सी
ये बता देंगी सामने रिवर है या सी
जीभ यानि टंग से लो स्वाद यानि करो टेस्ट
स्वादिष्ट खाने को किन्तु मत होने दो वेस्ट
– अनुष्का सूरी