Hindi Poem on Holi-Ham Sab Holi Manayenge

हम सब होली मनाएंगे (कविता का शीर्षक)रंग, गुलाल, फूलों से ,हम प्रकृति सजायेंगे,प्रेम और संबंध से,सबको रंग लगायेंगे,होगी होलिका दहन जब,बुराई जलाकर, अच्छाई अपनाएंगे,होली है धर्म का पर्व,ये हम सच्चाई बतलायेंगे,हम सब होली मनाएंगे,रंग, गुलाल, और प्रेम से,आँख मिचोली खेलेंगे,हम सब मिलकर,सबको रोली लगायेंगे,घर- घर जाकर, प्रणाम कर- कर,सबको गुलाल लगायेंगे ,बच्चे, बूढ़े और नौजवान,सब […]

Patriotic Poem in Hindi-Ye Desh Hai Mera Iska Sheesh Jhukne Nahi Dunga

यह देश है मेरा इसका शीष झुकने नहीं दूंगाएक वीर की दास्तान सुनाता हूं मैं।।।क्या कहता है वो।यह देश है मेरा इसका शीष झुकने नहीं दूंगा।।लिया है मैंने जो वचन मैं उसको पूरा करने के लिए जान भी दूंगा।।यह धरती मेरी माँ है मुझे इसका क़र्ज़ चुकाना है।।माँ-बाप भाई-बहन सब छोड़ दिया मैंनेक्योंकि मेरा तो […]

%d bloggers like this: