कोरोना को हराने के लिए कविता

now browsing by tag

 
 

Hindi Poem on Coronavirus Pandemic-Corona

कोरोना

ये कैसी महामारी है
जो हर देश पर पड़ रही भारी है ।
कैसे इस समस्या का समाधान करें
जब बड़े बड़े देशों ने हार मानी है।
बाहर से हम कितने ही निडर बने रहें
पर सबके दिल मे न जाने कितने डर है पल रहे।
कहीं लेट न जाऊं मैं मृत्युशय्या पर ,
कहीं इस बार मेरे परिवार की तो नही बारी है।
हरा देंगे कोरोना तुझको हम मिलकर
इन शब्दों का संचार सबके मुख से जारी है ।
पर कितनी इन शब्दों में सच्चाई है ??
हालात बद से बद्तर होते जा रहे हैं
अधरों पर दुआ और
आँखों से निकल रहा पानी है।।
मोदी जी इस कहर से बचा लो हमें
अभी तो रचनी हमें नए भारत की कहानी है🙏🙏
-कल्पना सागर