rituraj basant poem in Hindi

now browsing by tag

 
 

Basant Panchmi Hindi Poem – आया बसंत

देखो देखो है आया बसंत Basant Panchmi

अब हो जायेगा पाला अंत

चारों तरफ फूलों की चादर बिछी है

कितनी सुन्दर ये धरती सजी है

पीले रंग की है छाई बहार

मुबारक हो आपको बसंत पंचमी का त्यौहार

-अनुष्का सूरी