Hindi Poem on Digital Life during Pandemic- Digital Sa Hai Har Rishta Ab

डिजिटल सा है हर रिश्ता अब

डिजिटल सा है हर रिश्ता अब

दूर से निभाया जाता है

विडियो कॉल पर चेहरा देख ईमोजी से मुस्काया जाता है।

तोहफे , बधाई आदि भेजकर भाव जताया जाता है

बस इतनी सी कोशिश भर से अब रिझाया जाता है।

मिलना मिलाना कम हुआ

व्यस्तता में इससे काम चलाया जाता है

ख़ुश हो लेते है अब ऐसे ही

सब ऐसे ही बहलाया जाता है।

डिजिटल सा है हर रिश्ता

अब दूर से निभाया जाता है। 

-पूजा ‘पीहू’

Digital sa hai hr rishta ab

Digital sa hai hr rishta ab

Door se nibhaya jata hai

Video call pr chehra dekh

Emoji se muskaya jata hai

Tohfe,bdhai aadi bhejkr

Bhav jtaya jata hai

Bs itni si koshshi bhr se

Ab rijhaya jata hai.

Milna milana km hua vystata main

Isse kaam chlaya jata hai

Khush ho jate hain ab aise hi sb

Aise hi behlaya jata hai.

Digital sa hai hr rishta ab

Door se nibhaya jata hai.

-Pooja Pihu

Leave a Reply