Hindi poem on India – हे मातृभूमि! तेरी ख़ातिर

Image source: prernabharti.com हे मातृभूमि! तेरी ख़ातिर, लेकर यह अभियान चले। अपनी जान हथेली पर हम, तुझ पर होने बलिदान चले। हम घट-घट के वासी हैं, जो भी नज़र उठा चले। हम वीर नहीं-हम वीर नहीं, इसकी रक्षा करने मिलकर साथ चले। रोम-रोम बस रोम-रोम, बस यही हमें याद दिलाता है। हम रह पाये या […]

%d bloggers like this: