Tag Archives: Hindi poems for kids

Hindi Poem on Child who Broke his Toy: खिलौना काँच का


नन्हे-नन्हे हाथो से ,
खिलौना हाथ से छूट गया,
खिलौना था ये काँच का,
गिरा ज़मींं पे टूट गया,
रोने लगा सुबक-सुबक कर,
और ज़मीं पर लेट गया,
लेकर खिलौने के टूकडो को,
जोडने आपस मे बैठ गया,
मासूम सी आँखो से,
आँसू ना रुक पाए,
सोच रहा है ये खिलौना,
शायद फिर से जुड जाए,
बार-बार आँसूऔ को पौंछे,
पर खिलौना ना छोडे,
उल्टे-पूल्टे लगा जोडने,
भला काँच कैसे जुडे,
ये तो था एक खिलौना काँच का,
गिरते ही ज़मीं पर टूट गया,
नन्हे-नन्हे हाथो से,
खिलौना हाथ से छूट गया,
खिलौना था ये काँच का,
गिरा ज़मीं पे टूट गया।

-गरीना बिशनोई

How to read

Nanhe nanhe hatho se
Khilona hath se chhut gaya
Khilona tha ye kanch ka
Gira zameen pe tut gaya
Rone laga subak subak kar
Aur Zameen par leit gaya
Le kar khilone ke tukde ko
Jodne aapas mei baith gaya
Masoom si aankhon se
Aansu na ruk paye
Soch raha hai ye khilona
Shayad fir se jud jaye
Bar bar aansuon ko ponche
Par khilona na chode
Ulte pulte laga jodne
Bhala kanch kaise jude
Ye to tha ek khilona kanch ka
Girte hi zameen par tut gya
Nanhe nanhe hathon se
Khilona hath se chhut gaya
Khilona tha ye kanch ka
Gira zameen pe tut gaya

-Gareena Bishnoi

Advertisements

Hindi Poem on Peacock Bird-मोर


peacock-2639169_960_720.jpg

खोलूँ जब पंख अपने
और बरसात में नाचूँ ज़ोर ज़ोर
हूँ मैं बड़ा चित्‍त चोर
हाँ मैं हूँ मोर
पक्षियों का मैं कहलाता हूँ राजा
मुरलीधर के मुकुट को मैं ही सजाता
हाँ मैं वही मोर हूँ

-अनुष्का सूरी

Kholu jab pankh apne

Aur barsaat mein nachu zor zor

Hoon main bada chitt chor

Haan main hoon mor

Pakshiyo ka main kehlata hoon raja

Murlidhar ke mukut ko main hi sajata 

Haan main wahi mor hoon

English Translation:

When I open my wings

And dance enthusiastically in the rain

I am a renowned heart thief

Yes, I am peacock

I am called the king of birds

I decorate the crown of Lord Krishn

Yes, I am the same peacock

Watch Video: