Missing a Loved One Poem in Hindi-Kahi Tum Zinda Ho

कहीं तुम ज़िंदा हो (कविता का शीर्षक) धुंधली सी उन तस्वीरों में आज भी कहीं तुम ज़िंदा हो दिल के उन दरवाज़ों पर आज भी कहीं दस्तक देते हो हर कोई कोशिश करता है आज भी कमी को भरने की धुंधली सी उन तस्वीरों में आज भी कहीं तुम ज़िंदा हो.. आँखों के वो परदे […]

Hindi Poem on Childhood-Chalo Phir Se Bacche Ban Jate Hain

चलो फिर से बच्चे बन जाते हैंचलो फिर से बच्चे बन जाते हैंलौट कर फिर एक बार स्कूल चले जाते हैं ..बाज़ार के खिलौनों को चलो अपना बनाते हैं ..छोटे से मोहल्ले में फिर से दौड़ लगाते हैं ..चलो फिर से बच्चे बन जाते हैं ।स्कूल की प्रेयर में आंखे खोल मुस्कुराते हैं ..दोस्तों के […]

%d bloggers like this: