Category Archives: Hindi Poems on Festivals

Hindi Poem for Brother- मेरा भाई है सबसे अच्छा


presents-wallpaper-1366x768

मेरा भाई है सबसे अच्छा
मेरा भाई है सबसे प्यारा
उसके ऊपर मैंने
अपना सब कुछ वारा
उसकी कलाई पर
सजेगी मेरी राखी
साथ में होगा
तिलक और बाती
खिलाऊँगी मैं उसको
अपने हाथों से बनायीं खीर
वही है मेरा अनमोल रतन
वही है मेरा वीर
हर राखी हर त्यौहार
संग मनाना मेरे भईया
-अनुष्का

Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Buy Now Buy Now
Advertisements

Hindi Poem on Independence Day: स्वप्निल हिंदुस्तान


bharat-mata

स्वप्निल हिंदुस्तान

ऐसा देश हमारा हो,

गर्व से मस्तक उन्मुख हो,

ऐसा स्वाभिमान हमारा हो ,

ऐसा देश हमारा हो |

 

क्या राजा क्या प्रजा ,

किसी का एकाधिकार ना हो ,

वस्त्र ,विहार,आहार , सर्वसुलभ हो ,

ऐसा देश हमारा हो |

जैसा इतिहास था ,

उससे उज्जवल भविष्य हो ,

समाहित हो जाये पश्चिम ,

जो प्रबल है पूरब की ओऱ ,

इतनी विशाल संस्कृति हमारी हो ,

ऐसा देश हमारा हो |

 

तम को चीरता ,

सूरज की पहली किरण से,

हर रोज एक हँसता हुआ ,

सबेरा हो ,

ऐसा देश हमारा हो |

अज्ञान का अंधकार कभी ना होने पाये ,

हर घर में ज्ञान का ,

एक दिया आलोकित हो ,

ऐसा देश हमारा हो |

 

 

भर दो यहाँ के दिलो में ,

इतना प्यार ,

वसुधैव कुम्ब्कम्ब ,

हमारी पहचान हो ,

ऐसा देश हमारा हो ,

ऐसा स्वप्निल हिंदुस्तान हमारा हो

-प्रियांशु शेखर 

Poem on New Year-नव वर्ष दिल से मनाओ


box-2953722_960_720
जो बीत गया पलों में उसको भूल जाओ,
मिलके ये नव वर्ष दिल से मनाओ,
प्यार से हँसते रहो,
प्यार से मुस्कुराओ,
बिखेर के हँसी हर चहरे पे
रोते चहरे को हँसाओ,
मिलके ये नव वर्ष दिल से मनाओ,
नव वर्ष का ये प्यारा हर लम्हा खास है,
लम्हे में छुपे हैं खुशियों के ख़ज़ाने,
लूट लो ये मिलके खुशियों के तराने,
खुशियों को प्यार से तुम इस वर्ष बुलाओ,
मिलके ये नव वर्ष दिल से मनाओ,
मंज़िल से कह दो इस वर्ष ना तू दूर है,
रास्तों से कह दो मंज़िल को सजाओ,
लेके दिया अंधेरे में हर तामस मिटाओ,
मिलके ये नव वर्ष दिल से मनाओ,
तरक्की हो समृद्धि हो,
हर घर में खुशहाली हो,
हर घर को खुशियों का जहां बनाओ,
मिलके ये नव वर्ष दिल से मनाओ|
-गौरव

Hindi Poem on Christmas – देखो क्रिसमस है आया


देखो क्रिस्मस है आया
सारा जहां है मुस्काया
सब तरफ क्रिस्मस ट्री हैं सजे
सॅंटा क्लॉस हैं तोहफे बांट रहे
रात को लाइट और सितारों की है चमक
दिन में क्रिस्मस केक की महक
साथ में हैं सब परिवार
ईसा मसि के जनम दिवस पर
आप सब को भी बहुत शुभकामनायें
क्रिस्मस में खूब धूम मचायें

Hindi Poem – होली है भई होली है


holi-2416686_960_720.jpg

होली है भई होली है

बुरा ना मानो होली है

पानी भरे गुब्बारे हैं

बच्चे छत से मारे हैं

गुजिया, समोसे, बढिया मिठाई

थालों में है गई सजाई

चारों तरफ है उड़ रहा गुलाल

सबके रंगे हुए चहरे हैं खुशहाल

एक साथ हैं दोस्त यार और परिवार

मनाने होली का त्योहार